Screen Reader Access Skip to Main Content Font Size   Increase Font size Normal Font Decrease Font size
Indian Railway main logo
खोज :
Find us on Facebook   Find us on Twitter View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

मंडल

समाचार एवं अद्यतन

निविदाओं और अधिसूचनाएं

प्रदायक सूचना

यात्री सेवा

हमसे संपर्क करें



 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
प्रमाणपत्र

कार्यशाला को विभिन्न प्रमाणपत्रों से मान्यता प्राप्त है।

विभिन्न प्रमाणपत्रों की स्थिति

प्रमाणन

अधिग्रहीत

दिनांक तक मान्य

5-S

05.02.2020

04.02.2023

IS: 3834

12.04.2021

11.04.2024

IMS

10.08.2021

09.08.2024

ISO: 50001

15.11.2021

14.11.2024

GreenCo

05.09.2019

04.09.2022

SIX SIGMA

19.03.2020  (एक बार की आवश्यकता)

IRIS

12.11.2021

11.11.2024

NABL

26.04.2022

25.04.2024

5Sलोको कॉम्प्लेक्स कीरोलर बेयरिंग सेक्शनशॉप नंबर-2, शॉप 09, शॉप 11, शॉप 14, कैरिज कॉम्प्लेक्स की शॉप 17 और 02 संख्यकस्टोर की वर्कप्लेस मैनेजमेंट सिस्टम के लिए 5S का पुन: प्रमाणन 05.02.2020 को प्राप्त किया गया है और यह 04.02.2023 तक वैध है।

5S का उद्देश्य

i) कचरे को करें खत्म।

ii) उत्पादन को सुव्यवस्थित करें।

iii) दक्षताओं का अनुकूलन करें।

ISO-3834 - वेल्डिंग प्रमाणन:

अंतर्राष्ट्रीय मानक के अनुसार धातु सामग्री के संलयन वेल्डिंग के लिए गुणवत्ता आवश्यकताएंISO-3834यह प्रमाणन सुनिश्चित करता है

i. सेवा में दक्षता और प्रभावशीलता के लिए वेल्ड गुणवत्ता में निरंतर सुधार

ii. समय पर डिलीवरी प्रदान करना

iii. ग्राहकों की बेहतर संतुष्टि

iv. पीओएच लागत और चक्र समय में कमी

v. विफलता दर को 0.5% से कम करना

एकीकृत प्रबंधन प्रणाली (Integrated Management System)

गुणवत्ता, पर्यावरण, सुरक्षा और स्वास्थ्य (क्यू..एस.एच.) नीतियों और उद्देश्यों को स्थापित करने के लिए पूर्वी रेलवे कार्यशाला, कांचरापाड़ा की प्रबंधन प्रणाली और निम्नलिखित अंतर्राष्ट्रीय मानकों की आवश्यकताओं के अनुरूप उन उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए प्रक्रियाएं -

i) ISO – 9001:2015 (गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली)

ii) ISO – 14001:2015 (पर्यावरण प्रबंधन प्रणाली)

iii) ISO – 45001:2018 (व्यावसायिक स्वास्थ्य और सुरक्षा प्रबंधन प्रणाली)

इस प्रकार, आईएमएस का उद्देश्य अपनी प्रक्रियाओं, उत्पादों और सेवाओं की गुणवत्ता को लागू करना, बनाए रखना और लगातार सुधारना, पर्यावरण संरक्षण के लिए चिंता करना और अपने कर्मचारियों के व्यावसायिक स्वास्थ्य और सुरक्षा को सुनिश्चित करना है और इस तरह बेहतर समग्र गुणवत्ता के साथ लक्ष्यों को प्राप्त करना और कानूनी (नियामक और वैधानिक) आवश्यकताओं का अनुपालन करना है।

ISO: 50001 प्रमाणीकरण

कांचरापाड़ा कार्यशाला को इसकी उचित ऊर्जा प्रबंधन प्रणाली के लिए 14.11.2024 तक वैधता के साथ 15.11.2021 को ISO-50001: 2018 के साथ फिर से मान्यता दी गई है।

ISO: 50001 का उद्देश्य

ऊर्जा के अधिक कुशल उपयोग के लिए एक नीति विकसित करना।


Green-Co Rating

पूर्वी रेलवे कांचरापाड़ा कार्यशाला ने आवश्यक आवश्यकताओं को पूरा करने के बाद मैसर्स कन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्रीज से "Green-Co silver" रेटिंग हासिल की। इस कार्यशाला ने पहले से ही हमारे संचालन में पर्यावरण मित्रता में विभिन्न अवधारणाओं को लागू किया है और साथ ही Green Co rating system कार्यान्वयन की प्रक्रिया के दौरान जबरदस्त प्रयास किए हैं, हमारे पर्यावरण को बनाए रखने, हमारे संसाधनों को संरक्षित करने, अपशिष्ट के पुन: चक्रण की संभावनाओं की खोज करने, अपशिष्ट पदार्थों का पुन: उपयोग करने और हमारे आपूर्तिकर्ताओं और ग्राहकों को प्रेरित करने के लिए एक मानक बेंचमार्क स्थापित किया है।  ऊर्जा की बचत, नवीकरणीय ऊर्जा के वैकल्पिक स्रोत का उपयोग करने में वृद्धि। रखरखाव प्रक्रिया और प्राकृतिक संसाधनों के व्यापक उपयोग में बेहतर प्रथाओं को लागू किया। इसे 05.09.2019 से 04.09.2022 तक वैधता के साथ हासिल किया गया है।

Green Co का उद्देश्य

Green Co rating का उद्देश्य यह आकलन करना है कि कंपनी कितनी ग्रीन है और हरियाली बनने के लिए आगे के रास्ते को उजागर करना है।


Six Sigma (6 σ) प्रमाणीकरण

(i) ईएमयू मोटर कोच व्हील सेट (ii) ट्रैक्शन मोटर में आर्मेचर (iii) नॉन एसी कोच में भारी जंग मरम्मत के पीओएच में साइकिल समय में कमी और (iv) ईएमयू मोटर कोच ट्रैक्शन मोटर में विफलता में कमी के क्षेत्र में सिक्स सिग्मा मान्यता प्राप्त की गई है। सिक्स सिग्मा प्रमाण पत्र 19.03.2020 को प्राप्त किया गया

 6 σ का उद्देश्य

i) ईएमयू व्हील सेट में विफलता में कमी।

ii) एनएसी आईसीएफ कोचों के पीओएच में एचसीआर के चक्र समय में कमी।

iii) ट्रैक्शन मोटर के आर्मेचर के रिवाइंडिंग में विफलता में कमी।

iv) ट्रैक्शन मोटर के पीओएच में साइकिल समय में कमी।

अंतर्राष्ट्रीयरेलवेउद्योगमानक(IRIS)

अंतर्राष्ट्रीय मानक ISO/TS-22163:2017 (IRIS) गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली के लिए है जो विशेष रूप से रेलवे संगठन पर लागू है। ISO-9001:2015 की बुनियादी आवश् यकताओं जैसे कि उत् पादन में वृद्धि, चक्र समय में कमी, पीओएच लागत में कमी, विफलता में कमी और ग्राहकों की संतुष्टि सुनिश्चित करने जैसे प्रमुख गुणवत् ता निष् पादन संकेतकों के संदर्भ में गुणवत् ता सुधार को ध् यान में रखते हुए, आईआरआईएस इस कार्यशाला को बेहतर व् यापार योजना के माध् यम से सभी गतिविधियों की विश् वसनीयता, उपलब् धता, रख-रखाव और सुरक्षा पर ध् यान केंद्रित करके और भी बेहतर निष् पादन प्राप्त करने में सक्षम बनाएगा।ISO/TS -22163: 2017 मानक के अनुसार निविदा प्रबंधन, परियोजना प्रबंधन, कॉन्फ़िगरेशन प्रबंधन, अप्रचलन प्रबंधन और नवाचार प्रबंधन।

राष्ट्रीय संरक्षण ऊर्जा पुरस्कार(National Conservation Energy Award)

कांचरापाड़ा कार्यशाला को भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय द्वारा रेलवे कार्यशाला क्षेत्र में ऊर्जा संरक्षण में उपलब्धियों की सराहना करते हुए वर्ष 2020 के लिए राष्ट्रीय संरक्षण ऊर्जा पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। कांचरापाड़ा कार्यशाला को राष्ट्रीय संरक्षण ऊर्जा पुरस्कार 2020 में दूसरा पुरस्कार मिला।


एनएबीएल (NABL)


नवीनतम प्रमाणन की तिथि: 26.04.2022

मान्य जब तक: 25.04.2024

प्रमाणन निकाय: QRO (Quality Research Organization) Certification LLP, UK




Source : पूर्व रेलवे CMS Team Last Reviewed : 19-09-2022  


  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.